सिविल सेवा परीक्षा में इंडिया ईयर बूक की भूमिका

Importance of India Year Book (IYB) for Civil Services Exam


सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करते सभी छात्रो ने संदर्भ पुस्तको की सूचि में भारत संदर्भ ग्रंथ या इंडिया ईयर बूक का नाम देखा ही होगा. यह पुस्तक भारत सरकार के प्रकाशन विभाग (पब्लिकेशन डिविजन) द्वारा हर साल प्रकाशित किया जाता है. देखने में यह पुस्तक बहूत ही मोटी और वजनदार होती है. लेकिन, यह पुरी किताब हमें पढने की कोइ जरुर नही है. इस किताब के कुछेक पन्नो को ही पढा जाना चाहीए, जो सिविल सेवा परीक्षा के संदर्भ में उपयोगी है.

प्रकाशन विभाग द्वारा इस पुस्तक में मोटे तौर पर आंकडाकीय फेक्ट्स / सूचना दी जाती है, जो शायद ही किसी को पढने में अच्छी लगे. 

इंडिया ईयर बूक में लगभग 33 विषय की सूचना प्रदान की जाती है, जिसमे से कुछेक को ही पढना चाहीए.
Sponsored Ads.

  1. भारत भूमि और उसके निवासी
  2. कृषि
  3. कला और संस्कृति
  4. मूल आर्थिक आँकड़े
  5. रक्षा
  6. शिक्षा
  7. उर्जा
  8. पर्यावरण
  9. खाद्य और नागरिक आपूर्ति
  10. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण
  11. भारत और विश्व
  12. उद्योग
  13. श्रम
  14. आयोजना
  15. ग्रामीण विकास
  16. वैज्ञानिक और प्रोद्योगिकी विकास
  17. जल संसाधन
  18. युवा कार्य और खेल
  19. राष्ट्रीय घटनाक्रम
उपर दिए गए सभी मुद्दो को पुरी तरह पढ़ने की भी जरुरत नही है, सिर्फ सरसरी तौर पर पढ़कर नोट्स बना लेने से भी चल जाएगा.

search term: India Yearbook: How to effectively utilize for UPSC IAS exam?