Civil Services (Preliminary) CSAT - Paper 2

Sponsored Ads.
Update: यूपीएससी ने 23 मई, 2015 को प्रकाशित सिविल सेवा परीक्षा नोटिफीकेशन, 2015मे सीसैट प्रश्नपत्र संबंधित एक नया प्रावधान किया है जिसके तहत अब सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा का फाइनल मेरीट सिर्फ जनरल स्टडीझ प्रश्नपत्र 1 के 200 मार्क्स से ही बनाया जायेगा. सीसैट प्रश्नपत्र के मार्क्स फाइनल मेरीट मे नही गिने जायेंगे. लेकिन उम्मीदवार को सीसैट के प्रश्नपत्र में 33% मतलब की 66 मार्क्स लेने होंगे. इसका मतलब यह हुआ की अब से (वर्ष 2015 से) सीसैट अब सिर्फ क्वॉलिफाईंग पेपर की तरह ही रहेगा.
संघ लोक सेवा आयोग (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन - यूपीएससी) द्वारा ली जाने वाली सिविलि सेवा परीक्षा में वर्ष 2011 से वैकल्पिक विषय की जगह पर सीसैट नामक एक कोमन प्रश्नपत्र आ गया है. आश्चर्य इस बात का है की आयोगने इस प्रश्नपत्र के लिए कभी भी CSAT (Civil Services Aptitude Test)  शब्द प्रयोग नही किया है. माना जाता है की यह शब्द सिविल सेवा परीक्षा के लिए दिल्ली मे चलते सब कोचींग सेन्टरकी देन है. आधिकारीक तौर पर आयोग इस प्रश्नपत्र को जनरल स्टडीज पेपर - 2 कहकर ही संबोधित करता है.

2011 से पहले सीसैट की जगह पर एक वैकल्पिक विषय चयन करने की अनुमति दी जाती थी लेकिन अब 2011 से, उम्मीदवार चाहे किसी भी प्रवाह का विद्यार्थी हो, उसे दोनो प्रश्नपत्र एकसमान ही देने पडते है.
सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा - सीसैट प्रश्नपत्र का सिलेबस / अभ्यासक्रम
  • गद्यार्थग्रहण
  • अन्तर्वैयक्तिक संप्रेषण कौशल
  • तार्किक एवं विश्लेषण क्षमता
  • निर्णय निर्माण और समस्या सुलझाना
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • आंकिक योग्यता एवं सांख्यिकी विश्लेषण